आउटरीच गतिविधियां

Print

जनता, छात्रों और प्रयोक्‍ता समुदायों के बीच कार्यक्रमों और उपलब्धियों के बारे में प्रचार करने और जागरूकता लाने के उद्देश्‍य से देश भर के 300 केंद्रों में 2008 के बाद से, प्रत्‍येक वर्ष 22 अप्रैल पृथ्‍वी दिवस के रूप में मनाया जाता है, जहां विभिन्‍न श्रेणियों के छात्रों के बीच प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती है तथा नकद पुरस्‍कार प्रदान किए जाते है। प्रत्‍येक स्‍कूलों से सर्वश्रेष्‍ठ प्रविष्‍टियों को पृथ्‍वी विज्ञान स्‍थापना दिवस समारोह में राष्‍ट्रीय स्‍तर पर पुरस्‍कार हेतु चुना गया । लोकप्रिय वार्ता, पर्यावरण को साफ करने में समाज की भागीदारी, वृक्षारोपण, साइकिल  रैलियों को पृ‍थ्‍वी दिवस समारोह का भाग बनाया गया है। विख्‍यात वैज्ञानिकों द्वारा पृथ्‍वी और पर्यावरण से संबंधित लेखों को शामिल करते हुए विशेष प्रकाशन जियोग्राफी एंड यू (अंग्रेजी) और भूगोल और आप (हिंदी) में प्रकाशित करवाए गए थे। राज्य सरकारों की सह-भागीदारी के साथ रायपुर जिले और हरिद्वार में विशेष कार्यक्रम आयोजित किए गए। लोकप्रिय पत्रिकाओं ‘‘फ्रंटलाइन’’, ‘‘नमस्‍कार’’, ‘‘आउट लुक’’ तथा सृष्‍टि (अंग्रेजी और हिंदी में), हिंदी में ‘‘भूगोल और आप’’ में लेख प्रकाशित करने के साथ-साथ नेशनल जियोग्राफी चैनल द्वारा पृथ्‍वी प्रणाली विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी की विभिन्‍न गतिविधियों पर बनाई गई फिल्‍म ‘‘विज्ञान सफारी’’ का क्षेत्रीय टेलीविजन चैनलों में स्‍थानीय भाषा में कई बार प्रसारण किया गया, जिसे विभिन्‍न सरकारी स्‍कूलों में वितरित किया गया। अंतर्राष्ट्रीय पृथ्वी विज्ञान ओलंपियाड में भारतीय छात्रों की भागीदारी का समर्थन किया। भारतीय टीम (4छात्रों) ने ओलंपियाड 2009 में चार कांस्य पदक और ओलंपियाड 2010 में एक रजत पदक और तीन कांस्य पदक जीते। वैज्ञानिकों, इंजीनियरों और प्रौद्योगिकीविदों को मंच प्रदान करने के लिए पृथ्वी प्रणाली विज्ञान के क्षेत्र में लगभग 500 से ज्‍यादा सेमिनार/सम्मेलन/प्रशिक्षण घटनाओं को सहायता प्रदान की गई थी। इसे भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, सीएसआईआर प्रयोगशालाएं, कॉलेज, विश्वविद्यालय, व्यावसायिक निकाय, गैर सरकारी और सरकारी एजेंसियां/ संगठन, आदि लाभान्‍वित हुए।

Last Updated On 11/16/2015 - 15:57
Back to Top