राष्रीसंय भूकंप विज्ञान केंद्र | Ministry of Earth Sciences

राष्रीसंय भूकंप विज्ञान केंद्र

Print

राष्ट्रीय भूकम्प विज्ञान केन्द्र (एनसीएस) आईएमडी की भूकम्प विज्ञान से संबंधित सभी गतिविधियों (ईआरईसी की गतिविधियों सहित) को एक साथ लाकर स्थापित किया गया है । एनसीएस के निर्माण पर, भूकम्प विज्ञान से संबंधित आईएमडी की सभी जारी गतिविधियों और परियोजनाओं (ईआरईसी की गतिविधियों सहित) को एनसीएस के माध्यम से संचालित/ कार्यान्वित किया जाएगा। इसके साथ - साथ, एनसीएस द्वारा विभिन्न भूकंप और जीपीएस नेटवर्क द्वारा उत्पन्न डेटा सेट का उपयोग करते हुए विशिष्ट अनुसंधान एवं विकास गतिविधियों भी शुरू की जाएंगी।

क) उद्देश्‍य:

पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के अधीन, भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के दायरे में भूकंप विज्ञान के क्षेत्र में वांछित वैज्ञानिक विकास करने के लिए, एक अधीनस्थ कार्यालय के रूप में, भूकम्प विज्ञान तथा भूकंप के खतरे से संबंधित सभी गतिविधियों को अलग करते हुए और एक साथ लाकर नोएडा में भूकम्प विज्ञान के क्षेत्र में उत्कृष्टता के एक नए केंद्र 'राष्ट्रीय भूकम्प विज्ञान केन्द्र', की स्थापना की गई है।

ख) प्रतिभागी संस्‍थाएं :

राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केन्द्र, नोएडा

ग) कार्यान्‍वयन योजना :

  • नोएडा में भूकम्प विज्ञान के लिए राष्ट्रीय केन्द्र (एनसीएस) के लिए नई प्रयोगशाला भवनों की स्थापना की जाएगी
  • ईआरईसी सहित आईएमडी की सभी भूकम्प विज्ञान से संबंधित गतिविधियां, आईएमडी से एनसीएस को हस्तांतरित की जाएंगी और नए पदों का सृजन कर उन्‍हें भरा जाएगा।
  • भूकंप प्रक्रियाओं की बेहतर समझ के लिए निम्नलिखित विवरणानुसार केंद्र की ओर से विशिष्ट अनुसंधान एवं विकास से संबंधित गतिविधियों और संबद्ध घटनाओं को लिया जाएगा:
    1. ग्राही कार्य तकनीक का उपयोग करते हुए भारतीय शील्‍ड के वर्गों और हिमालयी क्षेत्रों की ऊपरी मेंटल संरचना की पर्त।
    2. भविष्य के परिदृश्य में भूकंप से अनुभवजन्य हरित कार्य तकनीक का उपयोग करते हुए महत्वपूर्ण क्षेत्रों में जमीन की अपेक्षित गतियों का आकलन।
    3. देश में भूकंपीय दृष्टि से सक्रिय क्षेत्रों का विस्तृत भूकंपनीयता और भूकंप टेक्‍टोनिक के अध्ययन।
    4. विशिष्‍ट विवर्तनिक वातावरण में भूकंप स्रोत लक्षण वर्णन।
    5. भूकंप पूर्वसंकेतों का अवलोकन करना और भूकंप आने की घटनाओं के साथ संभव संबंध स्थापित करने के लिए डेटा सेट का व्यापक विश्लेषण
    6. भूकंप कैटलॉग का मानकीकरण आदि।
  • मानव संसाधन विकास के भाग के रूप में, भूकम्प विज्ञान और भूकंप जागरूकता कार्यक्रम में समय-समय पर प्रशिक्षण कार्यक्रमों के आयोजन के लिए अत्याधुनिक सुविधाओं की स्थापना की जाएगी

घ) वितरण योग्‍य :

  1. देश के सभी भूकंप विज्ञान से संबंधित मामलों का समाधान करने के लिए अति आधुनिक बुनियादी सुविधाओं, प्रयोगशाला भवनों और मानव संसाधन विकास के साथ, उत्कृष्टता के एक नए केंद्र, 'राष्ट्रीय भूकम्प विज्ञान केन्द्र' का निर्माण।
  2. विशिष्ट अनुसंधान एवं विकास से संबंधित परियोजनाओं के माध्यम से देश में विभिन्न विवर्तनिक वातावरण के तहत भूकंप प्रक्रियाओं की बेहतर समझ, बेहतर तैयारियों के साथ भूकंप के विनाशकारी प्रभावों का शमन करना।

ङ)बजट की आवश्‍यकता : 105 करोड़

(करोड़ रु)

बजट आवश्‍यकता
योजना का नाम 2012-13 2013-14 2014-15 2015-16 2016-17 कुल
एनसीएस गतिविधियां 15.00 25.00 30.00 20.00 15.00 105.00

एनसीएस की स्थापना की दिशा में लागत में शामिल हैं नोएडा में एनसीएस के लिए प्रयोगशाला भवनों के निर्माण पर व्‍यय, एनसीएस के व्‍यय की दिशा में आवर्ती लागत, अनुसंधान एवं विकास से संबंधित गतिविधियों, कार्यालय प्रशिक्षण और जागरूकता से संबंधित कार्यक्रमों पर भी खर्च।

 

 

Last Updated On 06/02/2015 - 11:41
Back to Top